राजनीति

[राजनीति][twocolumns]

समाज

[समाज][bleft]

साहित्‍य

[साहित्‍य][twocolumns]

सिनेमा

[सिनेमा][grids]

युवा दलित साहित्यकार व शोद्धार्थी आशीष और कामिनी को मिला डॉ आम्बेडकर सेवा सम्मान




लखनऊ.  बुद्ध अम्बेडकर कल्याण एसोसिएशन, उत्तर प्रदेश के तत्वावधान में 13 अक्टूबर 2019 (रविवार) को पूर्व राज्यपाल माता प्रसाद के 94 वें जन्म दिवस के अवसर पर अंतरराष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान गोमतीनगर, लखनऊ  में एक दिवसीय 'राष्ट्रीय संगोष्ठी, धम्म दीक्षा दिवस व पुरस्कार समारोह' का आयोजन हुआ। इसमें युवा दलित साहित्यकार व शोद्धार्थी आशीष कुमार दीपंकर और उनकी पत्नी युवा दलित साहित्यकार व शोद्धार्थी कामिनी को पंचशील पहनाकर डॉ. आम्बेडकर सेवा सम्मान 2019 का प्रशस्ति पत्र  देकर मुख्य अतिथि डॉ पूरन सिंह,  डॉ. शम्भूनाथ (IAS सेवा निवृत्त) अध्यक्ष माता प्रसाद (पूर्व राज्यपाल अरुणाचल प्रदेश) और संपादक ज्ञान प्रकाश जख्मी के हाथों सम्मानित किया गया। 



विशिष्ट अतिथि के तौर पर आर.पी. सरोज जी व इं. एन. के. गौतम IES रहे। कार्यक्रम के संयोजक बोधिसत्व बाबा साहब टुडे मासिक पत्रिका एवं साप्ताहिक समाचार पत्र के संपादक ज्ञानप्रकाश ज़ख्मी और संचालन नानक चंद ने किया। कार्यक्रम में पांच किताबों का विमोचन व लोकार्पण किया गया जिसमें सबसे अच्छी पुस्तक आर.पी. सरोज ( IPS, सेवानिवृत्त) द्वारा लिखित 'दलित साहित्य कोष' पर महत्वपूर्ण चर्चा हुई। इस मौके पर बड़ी संख्या लोग मौजूद थे।



Post A Comment
  • Blogger Comment using Blogger
  • Facebook Comment using Facebook
  • Disqus Comment using Disqus

No comments :